FEATUREDमध्यप्रदेशसतना

किसानो को प्रमाणित बीज देने सतना सहित 20 जिलों में लगेंगे प्लांट

भोपाल 16 सितंबर । मध्य प्रदेश सरकार किसानों को प्रमाणित बीज उपलब्ध करवाएगी 20 जिलों में प्लांट लगभग बनकर तैयार हैं उनमें सतना जिला भी शामिल है इससे पहले लगातार शिवराज सरकार किसानों पर बनाए हुए हैं सत्ता में आने के बाद से सरकार लगातार किसानों के हित में बड़े फैसले ले रही है कभी यूरिया तो कभी ओलावृष्टि से नुकसान के मुआवजे पर सरकार द्वारा अधिकारियों को एक के बाद एक नए निर्देश जारी हुए हैं सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ अरविंद सिंह भदोरिया ने कहा है कि किसानों को प्रमाणित बीज उपलब्ध करवाया जाएगा साथ ही जिलों में गोदाम शह ग्रेडिंग प्लांट का निर्माण भी करवाया जाएगा

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

असल में सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ अरविंद भदौरिया मंत्रालय में आयोजित हुई एक बैठक में शामिल हुए थे मध्य प्रदेश राज्य सहकारी बीज उत्पादक एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित संचालक मंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि किसानों को प्रमाणित बीज उपलब्ध करवाने के प्रयास तेज करने पड़ेंगे बैठक में किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री कमल पटेल भी मौजूद थे बैठक में मंत्री ने कहा कि किसानों को गुणवत्ता पूर्ण एवं प्रमाणित बीज उपलब्ध कराने में बीज संघ प्रभावी भूमिका निभाएं बीज उत्पादक समितियों द्वारा उत्पादित प्रमाणित बीज को शासन की विभिन्न योजनाओं में प्राथमिकता के आधार पर लिया जा कर किसानों को उपलब्ध करवाया जाए इसके अलावा कृषि मंत्री ने यह भी कहा कि प्रदेश में नकली बीज विक्रय को सख्ती से रोका जाए

यह भी पढ़े नेताओं का कभी पेट नही भरता ! आओ खायें मध्यप्रदेश (पार्ट 4)

बैठक में बताया गया कि बीज संघ के माध्यम से 20 जिलों में गोदाम शाह ग्रेडिंग प्लांट निर्मित किए जा रहे हैं वर्तमान स्थिति में 14 जिले जिनमें विदिशा,  सीहोर, खंडवा,  खरगोन,  बड़वानी,  उज्जैन,  देवास,  मंदसौर,  सागर,  टीकमगढ़,  बालाघाट,  मंडला और सतना में गोदाम ग्रेडिंग प्लांट का निर्माण पूरा हो चुका है और बाकी जिलों में निर्माण कार्य चल रहा है प्रत्येक गोदाम की भंडारण क्षमता एक हजार मैट्रिक टन होगी इन ग्रेडिंग प्लांट में बीज प्रसंस्करण क्षमता 40 टन प्रति घंटा

यह भी पढ़े सिकंदर के आवास में पुलिश ने तलाशे सबूत, देखिये तलासी की तस्वीर

अब देखने वाली बात यह होगी कि क्या यह ग्रेडिंग प्लांट एक सफेद हाथी बन कर तो नहीं रह जाएगा क्योंकि सतना सहित कई जिलों में कुछ ऐसी मशीनरी आज भी सफेद हाथी की तरह खड़ी है जिसका कोई उपयोग नहीं हो पा रहा है ऐसे में सरकार और उसके मंत्रियों को यह तय करना आवश्यक होगा कि यह ग्रेडिंग प्लांट सिर्फ सफेद हाथी बन कर न रह जाएं

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here