FEATUREDसतना

सतना में कोरोना से एक और मौत से दहशत, आज 15 नये पॉजीटिव मिले

सतना 6 सितंबर । सतना जिले में लगातार  4 दिनों से मौतों के सिलसिले के बीच बुजुर्ग कारोबारी ने दम तोड़ दिया है। उधर सतना के शहरी क्षेत्र में कोरोना पॉजिटिव केसों की डबल सेंचुरी भी पूरी हो गई। दिन भर में सामने आए 15 नए पॉजिटिव केस में अकेले 14 सतना शहर में हैं। इन संक्रमितों में स्पेशलिस्ट डॉक्टर और उनके बेटे समेत, जिला अस्पताल की स्टॉफ नर्स, चपरासी भी शामिल हैं।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

जिले के नागौद में कोरोना के कहर ने एक जिंदगी की साँसे को खत्म कर दिया है। सतना जिले के कोरोना संक्रमितों में से यह अब तक की 13वी मौत है। नागौद के एक परिवार के 80 वर्षीय नामी कपड़ा कारोबारी को तीन दिन पहले खराब हालत में रीवा रेफर किया गया था जहां शनिवार को उनकी मौत हो हो गई। उनके बेटे की कोरोना जांच रिपोर्ट भी शुक्रवार को पॉजिटिव आई

जिला अस्पताल के स्पेशलिस्ट डॉक्टर और उनके बेटे में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो गई है। शहर के एक कॉलोनी निवासी डॉक्टर की रिपोर्ट अंडर प्रोसेस थी। सैंपल रीवा भेजे गए थे जहां कंफर्मेशन टेस्ट के बाद डॉक्टर और उनके बेटे को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इसके अलावा जिला अस्पताल में पदस्थ दो स्टाफ नर्सों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है।

टिकुरिया टोला में रहने वाली 40 वर्षीया नर्स तथा सरस्वती स्कूल रोड कृष्ण नगर में रहने वाली 25 वर्षीया स्टॉफ नर्स की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वही सतना जिला अस्पताल के आईपीपी 6 तक भी जा पहुंचा है। जिसके चलते आईपीपी 6 बल्कि ट्रू नॉट लैब में भी हड़कंप मच गया है।

बताया गया कि अभी हाल ही में डीएचओ ने आशा कार्यकर्ताओं की जांच के लिए एक कैंप लगवाया था। उसी दौरान उन्होंने आईपीपी 6 के चपरासी ने भी सैंपल करा दिए थे। चपरासी की सैंपलिंग सीधे ट्रू नॉट लैब के अंदर ही करा दी थी, सैंपल लेते वक्त पीपीई किट का भी इस्तेमाल नहीं किया गया था। इस पर वहां उस वक्त मौजूद रहे कुछ लोगों ने आपत्ति भी जताई थी लेकिन उसे दरकिनार कर दिया गया था। अब जब चपरासी की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई है तो हड़कंप मच गया है।

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here