FEATUREDमध्यप्रदेशसतना

अतिथि शिक्षक संघ ने मांग 12 माह का वेतन

सतना 5 अगस्त । अतिथि शिक्षक संघ ने आज शिक्षक दिवश के दिन ,जिला कलेक्ट्रेट का घेराव करने पहुचे,बड़ी संख्या में अतिथि शिक्षक सामिल हुए, अपनी पांच सूत्रीय मांगों को लेकर पंहुचे अतिथि शिक्षकों ने राष्ट्पति के नाम का ज्ञापन सौंपा। सोशल डिस्टेंसिघ को दरकिनार करते पर ज्ञापन लेने पहुचे एसडीएम ने पहले खरी खोटी सुनाई और फिर ज्ञापन लिया अतिथि, शिक्षक सरकार से वेहद खपा नजर आए और 12 माह का वेतन और नियमितीकरण की मांग की

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

यह पहला मौका नहीं है जब अतिथि शिक्षकों ने अपने नियमितीकरण की मांग उठाई हो लेकिन इस बार मौका थोड़ा खास जरूर है क्योंकि मध्यप्रदेश में 27 सीटो चुनाव होने हैं इसी वजह से अतिथि शिक्षकों ने भी अपने नियमितीकरण और वेतन की मांग को लेकर प्रदर्शन शुरू कर दिया है हैरानी की बात तो यह है कि इन्हीं अतिथि विद्वानों को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ सरकार के खिलाफ सड़क में उतरने की चेतावनी दी थी और फिर भाजपा में शामिल हो गए बावजूद इसके अतिथि विद्वानों की मांग को पूरा नहीं किया गया और अब कोरोना काल में अतिथि विद्वान रोजी रोटी के लिए दर-दर भटक रहे हैं

भोपाल में अतिथि विद्वानों का आंदोलन कई महीने तक चला जो मध्य प्रदेश के इतिहास में सबसे बड़ा आंदोलन साबित हुआ और इसी आंदोलन ने सत्ता की जड़ों को हिला कर रख दिया इस आंदोलन में सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान सहित सभी वर्तमान कैबिनेट मंत्री तक आए और सत्ता में आते ही अतिथि विद्वान के आगे अभिलंब नियमितीकरण की बात कही किंतु यह बात अब तक कोरा चुनावी वादा ही साबित हुई है

No Slide Found In Slider.

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here