FEATUREDरीवा

अवधेश प्रताप सिंह रीवा विश्वविद्यालय के कुलपति ने इस्तीफा दिय

अवधेश प्रताप सिंह विवि में कुलपति प्रोफेसर पीयूष रंजन अग्रवाल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा प्रभारी राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को सौंपा है। प्रो अग्रवाल रीवा में सिर्फ 11 माह की ही सेवाएं दे पाए हैं। उन्होंने कुलपति रहने का एक साल का कार्यकाल भी पूरा नहीं किया है। हालांकि प्रभारी राज्यपाल पटेल ने अभी तक उनका इस्तीफा स्वीकृत नहीं किया गया है। इसलिए वे अभी भी कुलपति के पद आसीन हैं। कुलपति अग्रवाल ने इस्तीफा देने का कारण अपनी पारिवारिक समस्याएं होना बताया है।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

रीवा विवि में पदस्थ होने के पहले प्रोफेसर अग्रवाल मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टीट्यूट आॅफ टेक्नोलॉजी प्रयागराज में कार्यरत थे, जिसमें वे स्कूल आफ मैनेजमेंट स्टडीज विभाग के प्रमुख थे। वे सागर विश्वविद्यालय में भी कार्य कर चुके हैं। 1996 से लेकर वर्ष 2000 तक सागर में वे पदस्थ रहे हैं। उनके कार्यकाल का अधिकांश समय प्रयागराज में ही पूरा हुआ है। दिसंबर 2013 से मई 2017 तक प्रोफेसर अग्रवाल वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर में कुलपति रहे हैं। इनकी पढ़ाई इलाहाबाद में ही हुई है। वहीं से एम कॉम एलएलबी की डिग्री हासिल की। इसके बाद गत वर्ष तत्कालीन राज्यपाल लालजी टंडन ने 13 सितंबर 2019 में एपीएस विवि रीवा का कुलपति नियुक्त किया था।

READ MORE गरीब महेश को रीवा में ही नि:शुल्क मिली एंजियोप्लास्टी की सुविधा

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here