FEATUREDमध्यप्रदेश

कन्या विवाह योजना: अब नही मिलेंगे 51000

भोपाल 19 अगस्त 2020। मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में बड़ा बदलाव करते हुए पूर्व मे कमलनाथ सरकार द्वारा किए गए एक और फैसले को पलट दिया है। शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह एवं निकाह योजना के तहत 51 हजार की राशि देने से इनकार कर दिया है। सामाजिक न्याय मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि अब हमारी पिछली शिवराज सरकार में तय की गई राशि ही कन्या विवाह योजना के तहत दी जाएगी। गौरतलब है कि शिवराज सरकार ने कमलनाथ सरकार बनने से पहले इस योजना के तहत 28 हजार देने का ऐलान किया था। मंत्री ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने बिना सोचे-समझे इसे बढ़ाने का फैसला ले लिया था। अब 51000 हम नही दे सकते ।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

कमलनाथ सरकार ने बढ़ाई थी राशि
मध्य प्रदेश में कमलनाथ ने सीएम बनते ही मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की राशि को बढ़ाकर 51 हजार कर दिया था। जिसमें से 48 हजार रुपये लड़की के खाते में जाते थे और 3 हजार रुपये आयोजन करने वाली संस्था को दिये जाते थे। तात्कालीन सरकार ने दावा किया था कि विवाह की राशि कम है इसलिये इसको बढ़ाया गया है। हालांकि एक नियम भी इसके साथ जोड़ दिया गया था कि शादी के एक महीने बाद तक घर में शौचालय होना चाहिये जिसका भौतिक सत्यापन अधिकारी करेंगे। यानि कि तब दुल्हन को शौचालय के साथ सेल्फी लेनी होती थी।

सड़को में उतरेगी काँग्रेस
शिवराज सरकार द्वारा कन्या विवाह योजना के तहत दी जाने वाली राशि की कटौती के फैसले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि यह सरकार जनहितैषी महत्वपूर्ण योजनाएँ बंद करेगी या हितग्राहियों को मिलने वाली राशि मे कटौती करेगी तो कांग्रेस चुप नही बैठेगी । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में दी जाने वाली राशि यदि 51000 से कम कर के 28000 की गई तो पूरे प्रदेश में कांग्रेस सड़कों में उतरेगी ।

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here