FEATUREDसीधी-सिंगरौली

विस्फोटक से भरे वाहनों की बड़ी लापरवाही आई सामने, प्रोटोकॉल दरकिनार

सिंगरौली | 7 अगस्त । मध्यप्रदेश के औद्योगिक नगरी सिंगरौली में विस्फोटक सामग्री के परिवहन में लगातार नियमों की अनदेखी की जा रही है एक ओर जहाँ आमजनों के जीवन को खतरे में डाला जा रहा है वहीं दूसरी तरफ जिम्मेदार प्रशासन का हाथ पर हाथ धरे बैठना गले के नीचे नही उतर रहा है ।आखिरकार जिला प्रशासन कंपनियों के मामले में चुप क्यों है इस प्रकार से लापरवाही बरतने वाले लोगों पर आखिरकार क्या कार्यवाही की जाएगी ये तो आने वाला समय ही बताएगा ।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

जाने पूरा मामला

देश में संक्रमण के 56,282 नए मामले सामने आए, कुल संक्रमितों की संख्या 19,64,536 हुई

READ MORE

सिंगरौली जिले में कोयला खदान में कोयले के उत्पादन को लेकर कंपनी में भारी मात्रा में विस्फोटक का प्रयोग किया जाता है । कोयले की खान में विस्फोटक सामग्री का प्रयोग कर मिट्टी हटाई जाती है इसके बाद कोयला निकला जाता है । विस्फोटक सामग्री को खदानों तक पहुंचने की जवाबदेही सीआईएसएफ के जिम्मे है । यहां पर गौर करने वाली बात है कि विस्फोटकों से भरी गाड़ी में भारी मात्रा में डेटोनेटर जिलेटिन एवं बारूद होता है जो कि कई टन वजन का होता है ।

विस्फोटक वाहनों की नही होती पायलेटिंग

कोरोना वारियर्स को सरकार का झटका, 4 माह से आधे वेतन का है सहारा

READ MORE

भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री होने की वजह से विस्फोटकों का परिवहन करते समय स्थानीय प्रशासन व सीआईएसफ की जवाबदेही बनती है कि ऐसे वाहनों को भीड़ भाड़ वाले जगहों से तत्काल निकलवा कर इनके गंतव्य स्थान की तरफ पहुंचाना होता है । परंतु अक्सर देखने में यह आया है कि वाहन चालक के द्वारा वाहन को कहीं भी रोककर बकायदा चाय की चुस्की लेते दिखाई पड़ते हैं एवम सुरक्षा के लिहाज से पायलेटिंग वाहन नदारत रहते हैं । आखिरकार विस्फोटक से भरी गाड़ी के साथ इतनी बड़ी लापरवाही कोई कैसे कर सकता है ।

सतना में हो चुका है बड़ा हादसा

राम की नगरी में गोली मारकर हत्या, कुछ ही घंटों में पुलिस ने किया गिरफ्तार

READ MORE

पड़ोसी जिले सतना में कुछ वर्ष पूर्व में ऐसी ही एक घटना सामने आ चुकी है जिसमे की एक एक्सप्लोसिव वैन हादसे का शिकार हुई थी जिसमे की इस हादसे में एक्सप्लोसिव वैन के परखच्चे उड़ गए थे और इस घटना की भयावह स्थिति का अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि इस घटना में 2 किलोमीटर की परिधि में आने वाले मकानों में दरारें आ गई थी व सीसे टूटकर बिखर गए थे ।

“यात्रीगण कृपया दें” – स्टेशन में ये आवाज किसकी है

READ MORE

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here