FEATUREDमध्यप्रदेश

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ का प्रदर्शन, शिवराज सरकार माने इनकी मांग

भोपाल | एक बार फिर संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने शिवराज सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है मांगे पूरी ना होने के चलते संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने 5 जून को काला दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है आज प्रदेश भर में कोरोना से दिन-रात जंग लड़ रहे 19000 संविदा स्वास्थ्य कर्मी प्रदर्शन कर रहे हैं

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ मध्य प्रदेश के प्रांत अध्यक्ष सौरभ सिंह चौहान ने बताया कि संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों को समकक्ष नियमित कर्मचारी के वेतन का 90% एवं अन्य सुविधाएं प्रदान की गई थी जिसे शासन ने आज दिनांक तक लागू नहीं किया संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की जान बचा रहे हैं विपदा की घड़ी में पूरी इमानदारी और लगन से सेवा कर रहे हैं लेकिन इसके बावजूद भी कर्मचारियों को संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के लिए बनाई गई नीतियों का लाभ नहीं मिल रहा है वहीं संविदा कर्मियों का आरोप है कि मुख्यमंत्री कोविड-19 कल्याण योजना से संविदा कर्मचारी 1 जख्मी ₹10000 की अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि बीमा पेंशन अनुकंपा सामाजिक सुरक्षा महंगाई भत्ता और नियमित की तुलना पर आधे वेतन मिल रहे हैं सरकार द्वारा स्वयं के निर्मित और पारित हो चुके नियमों के पालन कराने में नाकाम और असफल है

आज हो रहे इस अनोखे प्रदर्शन में संविदा चिकित्सक, नर्स, फार्मासिस्ट, लैब टेक्नीशियन, एएनएम, प्रबंधन इकाइयां, ऑपरेटर, आयुष, एड्स, टीवी योजना के समस्त कर्मचारी शामिल हैं यह कर्मचारी काला कपड़ा, काली पट्टी, काला चश्मा पहन कर काम कर रहे हैं

यह भी पढ़े :

टिड्डीदल का सतना की फसलों में 5वीं बार हमला

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here