FEATUREDसतना

पुलिस के नाम पर दाग हुआ बर्खास्त, बंदूक तान कर करता था उगाही

सतना | डायल हंड्रेड नागौद मैं ड्यूटी के दौरान दो व्यक्तियों से पैसे लेने के आरोप में एवं थाना अमरपाटन में पिस्टल की नोक पर पैसे की मांग करने वाले अपचारी आरक्षक 781 सुनील कंजर को पुलिस अधीक्षक ने किया बर्खास्त साथ ही सिपाही कंजर पर अनाधिकृत रूप से गैरहाजिर रहकर कर्तव्य के प्रति घोर लापरवाही, स्वेच्छाचारिता व उदासीनता बरतने, अनुशासनहीनता करने, कर्तव्य के दौरान निर्धारित वेशभूषा धारण न करने के भी आरोप साबित हुए है

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

पुलिस अधीक्षक महोदय सतना रियाज इकबाल द्वारा आज दिनांक 3 जून 2020 को अपचारी आरक्षक 781 सुनील कंजर को बर्खास्त कर दिया गया।अपचारी आरक्षक द्वारा थाना नागौद तैनाती के दौरान गोपालटोला निवासी शिवप्रसाद वर्मा एवं उसके रिश्तेदार से गांजा रखने के आरोप में तलाशी लेने एवं उनके जेब से पैसे लेने की प्रकाशित घटना के संबंध में पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा निलंबित किया गया था दौरान निलंबन अपचारी निलंबित आरक्षक द्वारा थाना अमरपाटन क्षेत्रांतर्गत ग्राम किरहाई इटमा कोठार की फरियादिया श्रीमती अंजू पाण्डेय पत्नी रामनरेश पाण्डेय उम्र 41 वर्ष की पुत्री कु० अनिशा पाण्डेय ने थाना अमरपाटन में निलंबन अवधि में फरियादिया के घर में अपराध कारित करने की नियत से प्रवेश कर स्वयं को काईम ब्रांच पुलिस सतना बताते हुये फरियादिया की पुत्री कु0 अनीशा पाण्डेय के सीने पर पिस्टल अडा कर 30,000/- (तीस हजार) रू0 की मांग कर भ्रष्ट आचरण प्रदर्शित करने एवं पुलिस विभाग में रहते हुये सेवा शर्तों के विपरीत आचरण प्रदर्शित कर अनुशासनहीनता किया।अपचारी आरक्षक थाना अमरपाटन के अप0 53/2020 धारा 452,386 ताहि में गिरफतार होकर न्यायिक अभिरक्षा में जेल जाने से निलंबन में यथावत रखा गया है।इसी प्रकार दिनांक 17.05.19 से दिनांक 21.06.19 एवम् 6/2/2020 से 2/6/2020 तक दिवस स्वेच्छापूर्वक गैरहाजिर रहने एवं कर्तव्य के प्रति लापरवाही एवं अनुशासनहीनता के लिये सेवा से निलंबित रहा है।इस प्रकार अपचारी के पूर्व सेवा रिकार्ड एवं अनुपस्थित अवधि में किये गये कदाचरण इस बात की पुष्टि करते हैं कि अपचारी मे अब भविष्य में एक अच्छे पुलिस अधिकारी बनने की संभावनाएं नहीं है।

घोर लापरवाही,अनुशासनहीनता कर नियमों का उल्लंघन करने एवं निंदा 17,चेतावनी 06, काम नहीं वेतन नहीं 04. एलआर 24-02 एवं 02 प्रकरणों में वेतनयमित असंचयी प्रभाव से रोकने के दण्ड देने के बाद भी सुधार परिलक्षित न होने एवं निरंतर अनुशासनहीनता बरतने के आरोप में अतः अपचारी आरक्षक 781 सुनील कंजर पुलिस लाईन सतना के विरुद्ध प्रमाणित आरोप एवं उसको समय-समय पर सुधार की दृष्टि से दिये गये लधु दण्ड एवं दीर्घ शास्ति दिये जाने के बावजूद भी कार्य व्यवहार में कोई सुधार परिलक्षित नहीं होने से उसे सेवा से पदच्युत (DISMISSAL FROM SERVICE) किया जाता है।

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here