FEATUREDमध्यप्रदेश

कर्ज माफ़ी पर शिवराज का बयान, किसानों के साथ हुई कर्ज माफी धोखा है

भोपाल : कमलनाथ सरकार के जाने के बाद बीजेपी सत्ता में आई और सत्ता में आने के बाद से ही चर्चा का विषय बना हुआ था कि क्या किसानों की कर्ज माफी होगी या नहीं पिछली सरकार द्वारा किसानों से किया गया वादा नई सरकार पूरी करेगी या भूल जाएगी ऐसे में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2 महीने बाद अपने जारी बयान में कहा है कि किसानों के साथ हुई कर्ज माफी धोखा है कांग्रेसमें केवल 6 हजार करोड़ रुपए दिए मैं ऐसे रास्ते निकाल लूंगा जिससे किसानों के खाते में खाते में डायरेक्ट पैसा जाए और मध्य प्रदेश को फिर से मध्यप्रदेश बनाएंगे फिर से इसे खड़ा कर देंगे

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ ने किसानों के साथ छल किया लेकिन भाजपा ने किसानों की हमेशा चिंता की है कमलनाथ सरकार ने पिछले वर्ष 7000 मैट्रिक मैट्रिक टन गेहूं खरीदा था लेकिन इस बार उम्मीद से अधिक 1.3 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीदी हुई है जो मध्य प्रदेश में अभी तक की सर्वाधिक खरीदी है किसानों की गेहूं खरीदी के आगे कोई भी परेशानी नहीं आने दी जाएगी शिवराज सिंह ने दिग्विजय सिंह के कार्यकाल पर भी सवाल उठाए और उनका कहना था दिग्विजय सिंह जब मुख्यमंत्री थे तब नर्मदा का पानी मालवा ले जाने की बात होती तो वह इसे असंभव बताते थे लेकिन हम नर्मदा का पानी छपरा और नर्मदा के जल को सांवेर की गांव-गांव तक ले जाने के लिए तुलसी सिलावट भागीरथ बनेंगे

इस दौरान शिवराज सिंह चौहान ने सिंधिया की तारीफ करते हुए कहा कि 15 महीने में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने मिलकर मध्य प्रदेश को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया था मुख्यमंत्री से मंत्री विधायक नहीं मिल पाते थे लेकिन बवाल बल्लभ भवन के चक्कर काटते थे कांग्रेस ने किसानों को कर्ज माफी के नाम पर धोखा दिया है और जब वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया में किसानों की दुर्दशा को लेकर सड़क में उतरने की बात कही तो उन्हें भी कमलनाथ ने अपमानित किया सिंधिया जी के नेतृत्व में तुलसी सिलावट और उनके साथियों ने अपने मंत्री पद को त्याग कर कमलनाथ से मध्य प्रदेश को बचाया है उन्होंने कहा कि हम मिलकर कमरस होकर संगठन को और मजबूत बनाएंगे

यह भी पढ़े : इस जिले में 31 हजार श्रमिको को मिल गया काम

No Slide Found In Slider.

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here