FEATUREDमध्यप्रदेश

शराब के ठेकों में हुआ बड़ा घोटाला ! बिना बैंक गारंटी जमा किये हुए अधिकारियों ने एकल समूह दुकानों के दिए ठेके

भोपाल : बिना बैंक गारंटी किसके आदेश पर दिए गए लायसेंस, ठेकेदारों और सफेदपोशों की मिली भगत के चलते ठेकों में जमकर गड़वड़झाला की आशंका, ऐसे जिलों में जहां सम्पूर्ण ज़िले का ठेका हुआ है,जैसे इंदौर भोपाल, जबलपुर, छिन्दवाड़ा, बैतूल, बालाघाट, सागर, राजगढ़ , सतना, रीवा, शहडोल, सिंगरौली, ग्वालियर, शिवपुरी समेत कुल 16 जिलों में आबकारी अधिकारियों के द्वारा मध्यप्रदेश राजपत्र क्रमांक 77 दिनांक 25 फ़रवरी 2020 के विभिन्न प्रावधान का स्पष्ट उल्लंघन कर दिए गए ठेके, राजपत्र क्रमांक 77 की कंडिका 10.1.4 के अनुसार प्रतिभूति राशि जमा होने के बाद लायसेंस जारी किया जाएगा जिसके लिए शासन ने 31/03/2020 के पत्र से लाइसेंसियों को पर्याप्त समय दिया था, कंडिका 20 के अनुसार 18 पोस्ट डेटेड चेक अतिरिक्त प्रतिभूति के रूप में लेना आवश्यक है, जिसको लिए बिना अधिकारियों के द्वारा क्यों लाइसेंस जारी किया गया। सरकार बदल जाने के बाद बैंक गारंटी जमा किये जाने की बात पर ठेकेदार ठेके छोड़ने की करने लगे बात, सरकार पर दवाब बनाने का खेल हुआ शुरू।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

 

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here