देश

भारत में है दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम , पढ़िए कहा है ये और क्या है इसमें ख़ास

दिल्ली / डिजिटल डेस्क  – क्रिकेट प्रेमियों के लिए सबसे बड़ी खबर भारत के गुजरात से है जहां पर विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बनकर तैयार है। इस स्टेडियम में एक साथ 1 लाख 10 हजार क्रिकेट प्रेमी बैठकर क्रिकेट का लुफ्त उठा सकते हैं। गुजरात के मोटेरा इलाके में 63 एकड़ जमीन पर इस स्टेडियम को बनाया गया है इस पूरे स्टेडियम को बनाने के लिए 700 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। फरवरी के अंतिम सप्ताह में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे विश्व क्रिकेट को देने जा रहे हैं इस दौरान यहाँ केम छो ट्रंप कार्यक्रम का आयोजित आयोजन किया जाएगा।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

यह है इस स्टेडियम की खूबियां

सरदार पटेल, गुजरात स्टेडियम नाम का यह विशाल खेल मैदान एक लाख दस हजार दर्शकों को बैठाकर मैच दिखाने की क्षमता रखता है। यह स्टेडियम ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड से भी बड़ा है। इस स्टेडियम में तीन प्रैक्टिस ग्राउंड क्लब हाउस, ओलंपिक साइज स्विमिंग पूल और एक इनडोर क्रिकेट एकेडमी भी है। इस स्टेडियम की सबसे बड़ी खास बात यह है कि यहां बैठा दर्शक हर शॉट को देख पाएगा जो कई स्टेडियम में नहीं हो पाता। यहां आने वाले दर्शकों के लिए वाहन पार्किंग की व्यवस्था भी बेहद शानदार तरीके से की गई है यहां पर 4000 कार और 10000 दोपहिया वाहनों की पार्किंग व्यवस्था की गई है इसके अलावा 75 कॉर्पोरेट बॉक्स भी बनाए गए हैं और यह दुनिया का पहला स्टेडियम होगा जिसमें एलईडी लाइट लगाई जाएंगी। इतना ही नहीं स्टेडियम में दर्शकों का आवागमन आसान हो जाए इसके लिए स्टेडियम के पास मेट्रो लाइन भी लाई गई है। इसे प्रधानमंत्री मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट भी कहा जा सकता है।

पहलू और विवाद

24 फरवरी को होने वाले इस कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर आने वाले हैं और उनके साथ उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप भी होंगी। सरदार पटेल स्टेडियम में ट्रंप और मोदी का केम छो ट्रंप कार्यक्रम होगा। जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति और भारत के प्रधानमंत्री एक साझा रैली को संबोधित करेंगे लेकिन अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को इंदिरा ब्रिज से जोड़ने वाले रास्ते के एक किनारे पर तकरीबन 800 परिवार रहते हैं जो झुग्गी बस्ती की शक्ल में है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वहां पर 400 मीटर लंबी और 6 फीट ऊंची बाउंड्री बनाई जा रही है ताकि अमेरिकी राष्ट्रपति से भारत की  झुग्गियों को छुपाया जा सके जिसको लेकर अब अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। समाचार एजेंसी राइटर ने दीवार बनाने वाले ठेकेदार के हवाले से लिखा है कि सरकार नहीं चाहती कि ट्रंप जब यहां से गुजरे तो उनकी नजर इन झुग्गियों पर पड़े।

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here